A letter to god Story In Hindi : भगवान को पत्र

0
562

A letter to god Story In Hindi : भगवान को पत्र

दोस्तों आज हम discuss करेंगे दसवीं क्लास की रोचक कहानी A Letter To God भगवान को पत्र जिसे लिखा है G.L. Fuentes है| यह बहुत मजेदार कहानी है| यह कहानी एक किसान की है, जिसका नाम है Lencho| Lencho को भगवान पर बहुत विश्वास था, इतना विश्वास की उसने भगवान को letter लिख दिया |

               A letter to god Story In Hindi

Lencho का घर एक पहाड़ी की शिखर पर था| जहां Lencho का घर था वहां कोई नहीं रहता था| Lencho का घर उचाई पर होने के कारण वह अपने अनाज( मकई) के खेतों को देख सकता था, जिनमें फूल भी आ गए थे| Lencho बहुत परिश्रमी किसान था, वह यह सोच रहा था कि इस बार उसकी खेती अच्छी होगी| Lencho के खेतों को जरूरत थी ,एक अच्छी बारिश की या कम-से-कम बौछार की जरूरत थी| पूरी मॉर्निंग Lencho जो अपने खेतों को जानता था , बड़े दिनों से उसने कुछ नहीं किया था| वह आसमान को बहुत देर से देख रहा था| वह यह सब कुछ सोच रहा होता है वह अपनी पत्नी से कहता है कि, अब हमें पानी मिलेगा| उसकी पत्नी शाम का खाना तैयार कर रही थी| Lencho की पत्नी ने जवाब में कहा, हां यदि भगवान की दया होगी तो, इस बार बारिश जरूर होगी और हमें अच्छी फसल मिलेगी| Lencho का बड़ा बेटा भी बहुत परिश्रमी था| वह Lencho  का हाथ बंटाता था| वह खेतों में काम कर रहा था और Lencho के छोटे बच्चे खेल रहे थे, जब तक की उनकी मां ने शाम के खाने के लिए नहीं बुलाया| खाना खाने का वक्त था कि Lencho ने जो सोचा था और जो आशा की थी कि बारिश होगी| वैसे ही आसमान से बड़ी-बड़ी बूंदे गिरना शुरू हो गई| हवा बहुत तेज थी और बहुत ही ताजी और सुहावनी थी| Lencho अपने घर से बाहर निकला | वह इसी खुशी को महसूस करना चाहता था| वह इतना खुश था कि लौटते वक्त उसने कहा कि यह बारिश की बूंदे नहीं जो आसमान से गिर रही हैं यह नए सिक्के हैं जो बड़ी बूंदें हैं वह 10 के सिक्के हैं जो छोटी बूंदें हैं या पांच के सिक्के हैं| वह इतना खुश था कि बूंदों को सिक्के के समान समझ रहा था| वह जानता था कि बारिश की बौछार उसकी खेत की जान थी| पूरे संतुष्ट भाव से उसने पूरे खेत को देखा जिसमें फूल भी थे|

अचानक तेजी से हवा चलने लगी और बड़े-बड़े ओले पड़ना शुरू हो गए| उसके बड़े लड़के ने बाहर निकल कर देखा तो खेतों में ओले पड़े हुए थे| उसके बड़े लड़कों ने ओलो  को इकट्ठा करने लगे | Lencho दुखी होने लगा| उसने सोचा ओला पड़ना थोड़ी देर में बंद हो जाएंगे, लेकिन ओले पड़ना बंद नहीं हुए| पूरी पहाड़ी इलाका सफेद चादर से ढक गया सब कहीं सफेद, सफेद नजर आ रहा था| और वहां पर एक भी पत्ता ऐसी नहीं थी जो बची हो | Lencho की पूरी फसल बर्बाद हो गई| ओलो की मार से फसल के फूल टूट कर गिर गए,Lencho बहुत दुखी था वह अपने परिवार के बारे में चिंतित था, क्योंकि यह एक ही  मात्र सहारा था| जब ओले पड़ना बंद हो गए तब वो खेत के बीचो बीच में खड़े होकर अपने लड़कों से कहा अगर खेतों में टिड्डिया लग गई होती, तब भी  हमारी फसल बच जाती लेकिन  इन ओलो ने कुछ भी नहीं छोड़ा| इस साल हमें फसल मकई नहीं मिलेगी| यह रात बहुत दुख भरी रात है| हमारी सारी मेहनत बेकार हो गई कोई नहीं जो हमारी मदद कर सके|| इस साल हम भूखे रह जाएंगे, लेकिन उन सब के दिल में जो उस पहाड़ी में अकेले रहते थे| उनके पास एक आशा  थी कि, उन्हें भगवान से मदद मिलेगी| वो कहता है कि इतना परेशान मत हो क्योंकि, कोई भूखा नहीं मरता| लोग भी ऐसा कहते हैं कि कोई व्यक्ति भूख से नहीं मरता| पूरी रात Lencho जो सिर्फ एक इसी उम्मीद में जागता रहा कि, भगवान की मदद मिलेगी क्योंकि, मैं जानता है कि भगवान सब को देखते हैं अगर किसी  के दिल में भी कोई अगर बात होती है तो भगवान उसको जान जाते हैं|Lencho जो बहुत परिश्रमी था| वह खेत में  जानवरों की तरह  काम करता था लेकिन, वह लिखना जानता था |

अगले संडे दिन निकलते उसने पत्र लिखना शुरु कर दिया| वह खुद शहर लेकर जाएगा मेल में डालेगा |  भगवान के लिए पत्र लिखा लेंचो ने! पत्र में कुछ इस तरह लिखा” भगवान अगर तुम मेरी मदद नहीं करोगे तो मैं और मेरा परिवार इस  साल भूखे रह जाएंगे| मुझे 100 रुपयें की जरूरत है इसलिए मैं आपसे विनती करता हूं की मेरा निवेदन सुनिए रुपयों की जरूरत इसलिए है क्योंकि, जिससे मैं दोबारा बीज लाकर खेतों में बो सकूं, बचे हुए रुपयों को जीवन जीने के लिए जब तक फसल ना आ जाए|” Lencho ने पत्र के ऊपर भगवान के लिए पत्र लिखा|  वह फिर शहर की तरफ चल दिया| पोस्ट ऑफिस में पहुच कर पत्र पर stampलगाया|पत्र post box में डाल दिया|

A letter to god Story In Hindi : भगवान को पत्रएक कर्मचारी था,जो Postman था|वह Postoffice मे  सहायता करता था| वह पत्र लेकर बड़े अधिकारी के पास हंसता हुआ गया| अधिकारी को पत्र दिखाया, कि इस पर भगवान का नाम लिखा है| पोस्टमैन ने अपने पूरे कैरियर में इस Adress को कभी नहीं जाना था| Postmaster एक मोटा और बहुत फ्रेंडली था| वह भी हंसने लगा जल्दी ही वह गंभीर हो गया| उसने पत्र को मेज पर पटका और बोलो इतना विश्वास, काश मुझे भी भगवान पर इतना विश्वास होता| जितना इस व्यक्ति को है कि उसने भगवान को पत्र लिखना शुरु कर दिया| Postmaster नहीं चाहता था कि पत्र लिखने वाले व्यक्ति को का विश्वास टूटे इसलिए उसने एक आइडिया निकाला कि उसे  उसका जवाब मिलेगा |उसने पूरा पत्र खोलकर पढ़ा Postman ने जाना कि उसे भगवान की दया से ज्यादा भगवान से मिलने वाली मदद की आशा थी| पोस्ट मैंने  वहां के सभी कर्मचारियों से वार्तालाप की सभी से कुछ पैसों की मांग की| Postman ने भी अपनी Salary का कुछ हिस्सा दिया| सभी कर्मचारियों ने थोड़े- थोड़े रुपए दिए, लेकिन सौ रुपए इकट्ठे हुए क्योंकि यह कठिन काम था| पोस्टमैन ने पूरे रुपए के आधे से ज्यादा रुपए किसान को दिया| उसने रुपयो को लिफाफे में डाला फिर Lencho का  पता डाला| पोस्टमॉस्टर पत्र पर GOD साइन किया|

अगली संडे Lencho Postoffice जल्दी पहुंच गया और पूछा कि उसके लिए कोई पत्र आया है वह Postmaster ही था जिसने Lencho को पत्र दिया जैसे ही Lencho पोस्ट ऑफिस से बाहर निकला| Postmaster Lencho को देख रहा था | Lencho रुपयों को देखकर बहुत खुश ना हुआ उसने रुपए गिने लेकिन उसमें से कुछ रुपए कम थे| Lencho ने सोचा कि भगवान यह गलती नहीं कर सकते| उन्होंने पूरे रुपए भेजे होंगे| जल्दी ही Lencho पोस्ट ऑफिस की खिड़की पर गया| उसने Paper और Ink  मांगी उसने वहां की मेज पर पत्र लिखना शुरु कर दिया| Lencho  अपनी eyebrow को सिकोड़ते हुए पत्र लिखा क्योंकि, वह इतना क्रोधित था कि उसके माथे पर गुस्से की रेखा दिखाई दे रही थी| पत्र लिखने के बाद वह खिड़की पर गया Stamp खरीदा और अपनी थूक से पत्र पर मुक्का मार कर चिपका दिया| Lencho ने उस पत्र को पोस्ट बॉक्स में डाल दिया| Lencho के जाने के बाद Postman, Lencho का पत्र पढ़ा उसमें लिखा था कि” भगवान मैंने आपसे जो रुपए मांगे थे उसमें से मुझे 70 रुपये ही मिले हैं बाकी बचे हुए रुपए मुझे भेज दीजिए क्योंकि मुझे इन रुपयों की बहुत जरूरत है भगवान इस बार आप मुझे बचे हुए रुपए डाक से मत भेजिएगा क्योंकि, यहां पोस्ट ऑफिस के सभी कर्मचारी बदमाशों का गुट है| बाद  ने Lencho ने अपना नाम लिख दिया|

इस तरह A letter to god Story In Hindi : भगवान को पत्र कहानी खत्म होती है यह कहानी अत्यंत रोचक है एक किसान का भगवान पर विश्वास इस कहानी में दर्शाया गया है

धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here