Kya Koodna Zaroori Tha Lyrics In Hindi – Yahya Bootwala Poem

0
143

Kya Koodna Zaroori Tha Lyrics In Hindi – Yahya Bootwala Poem :- दोस्तों आज हम Yahya Bootwala की Poem जिस पर लाखो में Views हो चुके है -Kya Koodna Zaroori Tha Lyrics In Hindi Share कर रहे हैं |

12th  का Board हो गया and It an twelve  हमारा Vacation चल रहा था तो हम सब दोस्‍तों ने decide किया कि हम सब गोवा जाते है। And unlike your Plans it was executed so we undubbed in Goa because Miracle  और हम लोग गोवा में है and we are deciding कि हम लोग क्‍या करे। So we basically thinking  यार कोई साइन मिल जाये कुछ तो हो जाए। so all of a sudden we just  find this sign. दरिया किनारे दिल ये पुकारे चलो दरिया में It as simple as that so we rent a boat and we are like  चलो यार दरिया में जायेंगे we are chilling there with all coji the weather is fine and everything is good. And then you know one stupid friend he has one stupid idea चलो कूदते है।

And the problem is he is your best friend so you can’t boycott him also तो यार लाइक अच्‍छा ठीक है। Then you trying to liking liking  नहीं कूदते है ना। And the problem is that everyone in the group knows  how to swimming except me  तो मैनें कहा चलो ठीक है कूद जायेंगे tension नहीं अपने को YMC में थोड़ा बहुत तो Seek है। So I would like  चलो everyone jumps I am life if anything goes wrong they are there  मैं भी कूद गया खुशी के मारे। हां दोस्‍त तो बचा ही लेंगे। And its after jumps I realize that  कि सब अलग-अलग दिशा में कूदे।

And in the  direction I jumped there is no dam fill in the has damped in. I was the damn guy, they was the damn guy. I don’t know but I am in the direction whether is no friend  मैने कहा चल ठीक है। Chilled scene है। I am still swim  मैं तैर रहा हूं,तैर रहा हूं हाथ पैर मार रहा हूं। And someone I realize कि यार I know how to  swim and I enjoy that feeling. When after the point realize I am not moving I am there only jus one support  हाथ पैर मारे जा रहा हूं। अब फटना शुरू होती है। क्‍योंकि जब सांस बुलबुलें में तब्‍दील हो जाती है तब फटती है Second level of  फटना जब वो बुलबुले दिखना शुरू होते है  because now you are under the water  और Third जब बुलबुले भी दिखना बंद हो जाते है Now this is the point  जहां पर आपको लगता है कि यार जिंदगी बस साथ छोड़ रही है  और मौत हाथ बस पकड़ रही है। और वहां पर he have one important question in your head  क्‍या कूदना जरूरी था।

Now see I don’t have a lot of time to the figure of Answer क्‍योंकि कभी भी आउट हो सकता है। But there was one sensible friend who just realize कि यार Yahya गायब है। so he kind of sound me out बाहर निकाला और मै बच गया And I always had that  experience in my mind and I was very thankful  कि मैं बच गया। and probably this is last time had this  experience I was wrong .I had the same experience 3 years later when I fell in love. मेरा पहला relationship  था और पहली मोहब्‍बत की बात यह होती है कि आप सच्‍चे दिल से करते हो और hundread and ten percentage के साथ करते हो। तो जब वह टूटा तब मुझे वहीं फील हुआ कि मैं डूब रहा हूं। और डूबने की खासियत पता है क्‍या है कि आप अपनी लाचारी खुद देख सकते हो आप हाथ मारते हो पैर मारते हो उससे कुछ होता नहीं है। आप बस देखते रहते हो। You want  to ray of hope and you can see the Ray of hope but still nothing so wan’a happen  बस इस situation में बात यह थी कि मुझे पता था कि मुझे बचाने वाला कोई नहीं आने वाला।

So I had plenty of time to figure out क्‍या कूदना जरूरी था ? तो हर Stupid  आशिक की तरह पहले मैंने relationship को कोसना शुरू किया कि मैं उस relationship  में गया हि क्‍यूं। गलती दरियां की थी वही मुझे डुबा रही है But I sad  बहुत टाइम था फिर मै अपने relationship को analyze  करना शुरू किया। कि कितना खूबसूरत लगता था जब मै उसके साथ था जब वो बाते करते थे वो वक्‍त जो हम साथ गुजारते थे वो जो सारी यादे होती है ना एक साथ जब आना शुरू करती है तब आपको लगता है कि नहीं यार It was worth it. तो आज कल मै बस दरियां को वापस यहीं पूछ लेता हूं कि “और डुबा सकती है क्‍या।“

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here