Kumar Vishwas Biography In Hindi : Wiki | कुमार विश्वास की जीवनी [जीवन परिचय]

0

Kumar Vishwas Biography In Hindi : Wiki | कुमार विश्वास की जीवनी [जीवन परिचय]

Hy friends आज मै आपको कुमार विश्वास की जीवनी (Kumar Vishwas Biography In Hindi),कुमार विश्वास का जीवन परिचय कुमार विश्वास की शायरी ,कुमार विश्वास Wikipedia,Kumar Vishwas Biography,Wiki,Political Career, Shayari, Age, Birth, Koi Diwana kahta Hai Poem,career,Edgucation In Hindi के बारे में पूरी जानकारी देंगे |

Kumar Vishwas Biography : Wikipedia

Kumar Vishwas Biography In Hindi : यह बात बिल्कुल सच है कि हर व्यक्ति में किसी न किसी तरह का टैलेंट जरूर होता है लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो मल्टी टैलेंटेड होते हैं। उन्हीं लोगों में से एक कुमार विश्वास भी है। कुछ लोग कुमार विश्वास को उनकी बेहतरीन और लोकप्रिय कविताओं की वजह से जानते होंगे तो कुछ लोग उन्हें उनके राजनीतिक करियर की वजह से जानते होंगे। कुमार विश्वास का नाम आज पूरे देश में लोकप्रिय है लेकिन क्या आप जानते हैं कि कुमार विश्वास ने इस सफल जीवन की शुरुआत कहां से की? अगर नहीं, तो यह पोस्ट आपके लिए ही हैं। आज के इस पोस्ट में हम कुमार विश्वास के बारे में काफी कुछ जानने वाले हैं।

Kumar Vishwas Wikipedia :

कुमार विश्वास का पूरा और असली नाम विश्वास कुमार शर्मा है। कुमार विश्वास एक लोकप्रिय हिंदी कवि है। उनकी कुछ लोकप्रिय कविताएं जैसे कि एक पगली लड़की के बिन (1996),  कोई दीवाना कहता हैं (2007), फिर मेरी याद (2019) हिंदी साहित्य पर उनकी अद्भुत पकड़ को दर्शाती है। कुमार विश्वास एक हिंदी भाषी कवि होने के साथ एक राजनेता भी है। उनके द्वारा किये गए और किये जा रहे नेक कामो के चलते उन्हें एक समाजसेवी के तौर पर भी दिखा जाता है।

कुमार विश्वास का साहित्यिक जीवन : Kumar Vishwas Litrature Career

कवि कुमार विश्वास का जन्म 10 जनवरी 1970 को उत्तर प्रदेश के पिलखुआ शहर में हुआ था। कुमार विश्वास के पिता का नाम चंद्र प्रकाश शर्मा और उनकी माता का नाम रमा शर्मा था। कुमार विश्वास के पिता चंद्र प्रकाश शर्मा पिलखुआ शहर के आर एस एस डिग्री कॉलेज में एक लेक्चरर थे वहीं दूसरी तरफ उनकी माता रामा शर्मा एक हाउसवाइफ थी। कुमार विश्वास अपने घर में सबसे छोटे थे और उनके तीन बड़े भाई और एक बड़ी बहन थी। कुमार विश्वास का परिवार एक साधारण परिवार था।
कुमार विश्वास की प्राथमिक शिक्षा उनके शहर पिलखुआ के लाला गंगा सहाय विद्यालय में पूरी हुई। अपनी प्राथमिक शिक्षा पूरी करने के बाद कुमार विश्वास ने राजपुताना रेजिमेंट इंटर कॉलेज में एडमिशन लिया और उसके बाद मोतीलाल नेहरू रीजनल इंजीनियरिंग कॉलेज में इंजीनियरिंग करना प्रारंभ किया। कुमार विश्वास ने प्रारंभ में अपने पिता की इच्छा के कारण इंजीनियरिंग करना शुरू कर दिया लेकिन हिंदी साहित्य में अत्यधिक रुचि के कारण उन्होंने इंजीनियरिंग छोड़ दी और हिंदी साहित्य की ओर आगे बढ़ने लगे। हिंदी साहित्य का अध्ययन करके उन्होंने इसमें पीसीडी हासिल की।
हिंदी साहित्य की पीएचडी के लिए अध्ययन करते समय कुमार विश्वास ने अपना नाम विश्वास कुमार शर्मा से कुमार विश्वास में बदल दिया। साल 1994 में कुमार विश्वास एक लेक्चरर बनने और लाला लाजपत राय कॉलेज में हिंदी लिटरेचर का अध्ययन कराने लगे। हिंदी साहित्य के अध्ययन की शुरुआत से ही कुमार विश्वास में कविता को लेकर एक अद्भुत रुचि थी और उन्होंने कई कविताओं की रचना की जिनमे से आज काफी लोकप्रिय भी है। अपनी दमदार कविता और हिंदी पर बेहतरीन पकड़कर वजह से कुमार विश्वास एक लोकप्रिय कवि भी बने।
अपनी कविताओं के लोकप्रिय होने के बाद कुमार विश्वास हमें इंडियन आइडल जैसी टीवी शो में गेस्ट जज के रूप में भी दिखे। इसके अलावा भाई जी टीवी के शो सा रे गा मा पा लिटिल चैंप्स में भी नजर आ चुके हैं। साल 2018 में आई जॉन अब्राहम की फिल्म ‘परमाणु : द स्टोरी ऑफ पोखरण’ में ‘दे दे जगह’ नाम का गाना था जो काफी लोकप्रिय हुआ था। इस गाने को कुमार विश्वास ने ही लिखा था। इसके अलावा कुमार विश्वास ने एक म्यूजिकल पोएट्री सीरीज तर्पण भी पेश की।
कुमार विश्वास अब भी नियमिर रूप से पोएट्री का कार्य करते हैं। वह हिंदी ही नहीं बल्कि उर्दू और संस्कृत साहित्य के क्षेत्र में भी पूर्ण रूप से संस्कृत हैं। वह न केवल कविताओ की रचना करते हैं बल्कि अन्य कवियों की कविताओ की प्रशंशा भी करते हैं। उन्हें कविताएं पढ़ने का भी खूब शौक़ हैं। उन्होंने न केवल भारत के विभिन्न क्षेत्रों में बल्कि संयुक्त राज्य अमेरिका, सिंगापुर, दुबई और जापान जैसे कई देशों में अपनी कविताओं से लोगो को प्रभावित किया हैं

कुमार विश्वास का राजनीतिक करियर : Kumar Vishwas Political Career

विश्वास कुमार शुरुआत से ही एक नेक दिल इंसान थे। उन्होंने कई कवि सम्मेलनों में भ्रष्टाचार के लिए अपने अंदाज में विरोध किया हैं। इसके अलावा वह स्त्री सम्मान को भी काफी महत्व देते हैं। कहा जाता हैं की एक कवि में काफी संवेदनशीलता होती हैं और इस वजह से अधिकतर कवी समाजसेवा के कार्यो में भी अपना महत्वपूर्ण योगदान देती हैं। शायद यह बात कुमार विश्वास पर भी लागू होती हैं। कुमार विश्वास ने अपने कवी जीवन में समाज सेवा से जुड़े कई कार्य किये हैं।
समाजसेवा की अपनी इसी प्रक्रिया में उन्होंने साल 2005 में ‘इंडिया अगेंस्ट करप्शन’ आंदोलन में भाग लिया जिसे अन्ना हजारे लीड कर रहे थे। इसी समय कुमार विश्वास की जान पहचान अरविंद केजरीवाल के साथ हुई। यह आंदोलन कुछ ही समय में एक राजनीतिक पार्टी में बदल जिस जिसे हम ‘आम आदमी पार्टी’ (AAP) के नाम से जानते हैं। इस पार्टी को अरविंद केजरीवाल द्वारा लीड किया जा रहा था। अरविंद ने कुमार विश्वास से भी पार्टी का मेम्बर बनने के लिए आग्रह किया और कुमार विश्वास ने इसे सहर्ष स्वीकार किया।
शुरुआत में यह पार्टी वाकई में लोगो को काफी प्रभावित कर रही थी लेकिन धीरे धीरे कुछ उतार चढाव आते गए और पार्टी की इज्जत और प्रभावित करने की क्षमता कम होती गयी। शुरुआत में पार्टी ने खूब सफलता हासिल की लेकिन शायद जल्दबाजी में पार्टी ने अपनी सफ़लता से हाथ धो बैठा। दिल्ली में सत्ता स्थापित करने के कुछ समय बाद ही 2014 में अरविंद केजरीवाल ने लोक सभा इलेक्शन में प्रधानमंत्री पद के लिए लड़ने का फैसला किया। कुमार विश्वास इस समय अमेठी में आम आदमी पार्टी की तरफ से राहुल गांधी के विपक्ष में खड़े हुए लेकिन उन्हें जीत हासिल नहीं हुई।

कुमार विश्वास की उपलब्धियां : Kumar Vihswas Achievments In Hindi

कुमार विश्वास कई कॉन्ट्रोवर्सीज का शिकार हुए हैं जिसका कारण उनके द्वारा किया गये कुछ गलत फैसले जैसे की AAP को चुनना भी माना जाता हैं। लेकिन फिर भी उनका जीवन उपलब्धियों से भर हुआ हैं।
  • कुमार विश्वास ने जानी मानी यूनिवर्सिटी ‘चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी’ के यूनिवर्सिटी एंथम की रचना की जिसे ‘कुल-गीत’ के नाम से जाना जाता हैं।
  • उन्होंने भारत के बाहर भी हिंदी में व उर्दू और संस्कृत में कवि सम्मेलन करने लोगो को खूब प्रभावित किया हैं।
  • विश्वास कुमार ने अन्ना हजारे के द्वारा किये गए भ्रष्टाचार आंदोलन में लोगो को भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने के लिए अपनी कविताओं के माध्यम से काफी प्रेरित किया।
  • कुमार विश्वास ने कोई ‘दीवाना कहता है’ जैसी लोकप्रिय किताब की रचना की।
  • कुमार विश्वास ने जॉन अब्राहम की फ़िल्म पोखरण में ‘दे दे जगह’ नाम के गाने को लिखा हैं जो काफी लोकप्रिय हुआ।

कोई दीवाना कहता है ! : Koi Diwana Kahta Hai Poem In Hindi

कोई दीवाना कहता है, कोई पागल समझता है
मगर धरती की बेचैनी को बस बादल समझता है
मैं तुझसे दूर कैसा हूँ , तू मुझसे दूर कैसी है
ये तेरा दिल समझता है या मेरा दिल समझता है

मोहब्बत एक अहसासों की पावन सी कहानी है
कभी कबिरा दीवाना था कभी मीरा दीवानी है
यहाँ सब लोग कहते हैं, मेरी आंखों में आँसू हैं
जो तू समझे तो मोती है, जो ना समझे तो पानी है

समंदर पीर का अन्दर है, लेकिन रो नही सकता
यह आँसू प्यार का मोती है, इसको खो नही सकता
मेरी चाहत को दुल्हन तू बना लेना, मगर सुन ले
जो मेरा हो नही पाया, वो तेरा हो नही सकता

भ्रमर कोई कुमुदुनी पर मचल बैठा तो हंगामा
हमारे दिल में कोई ख्वाब पल बैठा तो हंगामा
अभी तक डूब कर सुनते थे सब किस्सा मोहब्बत का
मैं किस्से को हकीक़त में बदल बैठा तो हंगामा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here