Bahut Hua Ruhani Ishq Lyrics In Hindi : Zakir Khan

0
272

Bahut Hua Ruhani Ishq Lyrics In Hindi : Zakir Khan :- Hy friends, आज मै आपसे आपके चहेते Comedian Sakht Launda Zakir Khan की Love Story Hindi Poem “Bahut Hua Ruhani Ishq Lyrics In Hindi” Share कर आ रहे हैं |

बहुत हुआ रूहानी इश्क़ लिरिक्स : ज़ाकिर खान 

बहुत हुआ रूहानी इश्क़ अब के तो मिलना है तुमसे,

Bohut hua Ruhaani Ishq ab ke to milna hai tumse,
ग़ज़लें नही लिखनी है छुना है तुमको…
वो हज़ार बार के पढ़े हुए खत एक और बार नही पढ़ने है मुझे,
मुझे अपनी उंगलिया तुम्हारी हाथेली पे चाहिए…
चूम लेना है माथा तुम्हारा, सीने से लगा लेना है तुमको, बाहो में भर लेना है..
बहुत हुआ रूहानी इश्क़ अब के तो मिलना है तुमसे,

Bohut hua Ruhaani Ishq ab ke to milna hai tumse

और फोन पे तो बिल्कुल बात नही करनी है,
पर तुम्हारे कानो पर से बाल हटाना है

और एक छोटी सी बाली पहना देना है तुमको…
बिछिया, पायल, बिंदी सब कुछ अपने हाथो से पहनना है,
अब खुश्बू महसूस नही करनी है तुम्हारी…
बस पलकों को बंद होते हुए और खुलते देखना है,
कुछ काम बताना है तुमको,
फिर तुम्हारे उपकार जाने पर कलाई से पकड़कर बैठा देना है तुमको,
बहुत हुआ रूहानी इश्क़ अब के तो मिलना है तुमसे,

Bohut hua Ruhaani Ishq ab ke to milna hai tumse

Bahut Hua Ruhani Ishq Lyrics Zakir Khan (Hinglish)

Bohut hua Ruhaani Ishq ab ke to milna hai tumse,
Gazalein nahi likhni hai chhuna hai tumko…
Wo hazar baar ke padhe hue Khat ek aur baar nahi padhne hai mujhe,
Mujhe apni Ungliya tumhari Hateli pe chahiye…
Chum lena hai Maatha tumhara, Seene se laga lena hai tumko, Baaho mein bhar lena hai..
Bohot hua Ruhaani Ishq ab ke to milna hai tumse…

Aur phone pe to bilkul baat nahi karni hai,
Par tumhare kaano par se baal hataana hai aur ek chhotisi baali pehna dena hai tumko…
Bicchiya, Payal, Bindi sab kuch apne haato se pehnana hai,
Ab Khushbu Mehsoos nahi karni hai tumhari…
Bass palko ko band hote hue aur khulte dekhna hai,
Kuch kaam batana hai tumko,
Fir tumhare utthkar jaane par kalaai se pakadkar baitha dena hai tumko,
Bohot hua Ruhaani Ishq ab ke to milna hai tumse…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here