Atal Bihari Vajpayee Wikipedia In Hindi : Biography | अटल बिहारी वाजपेयी की जीवनी

atal bihari vajpayee biography in hindi

Atal Bihari Vajpayee Wikipedia In Hindi : Biography | अटल बिहारी वाजपेयी की जीवनी

Hey friends आज मै आपको हमारे देश के पूर्व प्रधानमंत्री जी अटल बिहारी वाजपेयी जी की जीवनी, Atal Bihari Vajpayee Biography In Hindi jeevan –parichay अटल बिहारी का जीवन -परिचय के बारे में पूरी जानकारी देंगे |

अटल बिहारी बाजपेयी जीवनी –

अटल बिहारी वाजपेयी का जन्म 25दिसंबर 1924 को मध्यप्रदेश के ग्वालियर माध्यम वर्ग का था | अटल जी के पिता का नाम क्रष्णा बिहारी बाजपेई तथा माता का नाम कृष्णा देवी था |अटल बिहारी जी के पिता एक स्कूल में टीचर तथा अच्छे कवी थे | अटल जी के 7 भाई बहन थे | अटल जी में कतय के गुड़ वंशानुगत थे | महात्मा राम चन्द्र वीर द्वारा रचित कृतिविजय पताका पड़ा जिससे वे प्रेरित हुए| अटल जी की Gradguation की पढाई ग्वालियर के विक्टोरिया कालेग में हुयी | बचपन से ही वे प्रतिभावान थे |उनके अन्दर कई गुण है | जिन्हें बताना आसान नही |अटल जी बचपन से ही स्वयं सेवक संघ से जुड़े गये | कानपूर के प्रतिष्ठित DAV Collage से राजनीती शाश्त्र में MA की परीक्षा प्रथम श्रेणी में पास की डाक्टर श्याम प्रसाद मुखर्जी ,दीनदयाल उपाध्याय की छत्रछाया में उन्होंने राजनीती के पैतरे ,और कई पत्र –पत्रिकाओ जैसे-पांचजन्य, रस्त्रधर्म ,दैनिक स्वदेश के संपादन का कार्य किया |Atal Bihari Vajpayee Biography In Hindi

अटल जी ने भारतीय जनसंघ की स्थापना सन 1955 में उन्होंने लेकसभा  का चुनाव लड़ा, परन्तु अटल जी को इस चुनाव में सफलता न मिली |सन 1957 में बलराम पुर जिला गोंडा से जनसंघ के प्रत्याशी बनकर विजयी हुए और उन्होंने लोकसभा में अपनी जगह बने |मोरारजी देसाई के कार्य कल में विदेश मंत्री बने |

रानजीति के क्षेत्र में अटल बिहारी जी –

किन्ही कारणों से जनता परतु छोड़कर भारतीय जनता पार्टी की ओर रुख किया | 6 अप्रिले 1980 में बनी भारतीय जनता पार्टी के अटल जी अध्यक्ष बने और अटल जी दो बार राज्य सभा के लिए चुने गये |सन 1997में प्रधान मंत्री के रूप चुने गये |19 Aprile 1998 को प्रधान मंत्री पद की शपथ ली |सन 2004में कार्यरत पूरा हेने से पूर्व भीषण गर्मी में प्रारंभ करने गये लोक सभा चुनावो में BJP के नेतृत्व वाले NDA(रास्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन ने अटल के नेतृत्व में चुनाव लड़ इस चुनाव में किसी भी पार्टी को बहुमत न मिला कांग्रेश ने भारत की केंद्रीय सर्कार पर अपनी दावेदारी पेश की और सफल हुए | आज वे राजनीती से सन्यास ले चुके है नै दिल्ली में कृष्णमेनन मार्ग में सरकारी आवास में निवास करते है |और उन्होंने कई लोग उन्होंने कामो की वजह से जानते है |अटल जी अविवाहित है |लेकिन उन्होंने दो बेटियों नमिता और नंदिता को गोद लिया |

अटल बिहारी वाजपयी जी के कार्य

1 परमाणु शक्ति संपन्न राष्ट्र –

अटल जी ने अपनि सर्कार में 16 मई पोखरण में 5 भूमिगत परिक्षण विस्फोट करके भारत देश को परमाणु शक्ति संपन्न राष्ट्र बनाया  | यह कार्य बहोत गोपनीय तरीके से किया जाता है | क्योकि पश्चिम देशो को इस चीज़ की भनक भी न लगे |पश्चिमी देशो द्वारा भारत पर कई प्रतिबन्ध लगा के अटल जी अपने नाम की तरह अटल होकर कार्य करते है | अटल जी ने भारत देश के लिए सबकुछ किया |

Page
  1. पाकिस्तान से सम्बन्ध –

अटल जी ने अपने कार्यकाल में सदा-इ –सरहद नाम से दिल्ली से लाहोर तक बस सेवा शुरू की | अटल जी ने इस सेवा के उद्घाटन के लिए प्रथम यात्री बने और पाकिस्तान की यात्रा करके नवाज शरीफ से  मिले और एक नई शुरुआत की |

3. कारगिल युद्ध

पाकिस्तान की सेना और कश्मीर के उग्र वादी ने भारत और पाकिस्तान के बिच नियंत्रण रेखा को पर कर भारत में घुस रहे थे | पाकिस्तान ने दावा किया की भारत में घुस रहे उग्र वादी कश्मीर में है लेकिन द्स्तावेगो और पाकिस्तानी नेताओ के बयानद्वारा पता चला की पाकिस्तानी की सेन इस युद्ध में सामिल थी | अटल जी ने अपनी सर्कार मे सूझ –बुझ से ठोस कार्यवाही की और उग्रवादियों से भारतीयों को क्षेत्र को मुक्त करवाया । कर्गिल युध मे भारतीय सेना को जन मॉल का काफी नुकसान हुआ |

4.स्वर्णिम चतुर्भुज परियोजना –

भारत भर सभी सड़क मार्ग से जोड़ना के लिए स्वर्णिम चतुर्भुज परियोजना शुरू की | बड़े बड़े नगरो को दिल्ली ,कलकत्ता , चेन्नई , गुजरता को राजमार्ग से जोड़ा गया जिससे देश वासियों को बड़े बड़े नगरो में पहुँचे में दिक्कत न हो | अटल जी ने अपने कार्य कार्य काल में सबसे ,अधिक सडको का निर्माण किया है ।

अटल बिहारी वाजपयी द्वारा किये गए अन्य कार्य 

  • कावेरी जल विवाद को सुलझाया |
  • अटल जी ने साफ्टवेयर विकास के लिए सूचना और प्रोद्योगिकी , विद्युतीकरण में विकास के लिए केंद्रीय विद्युत नियामक योग का गठन किया |
  • राष्ट्रीय काजमार्गो और हवाई अड्डो का विकास किया|
  • राष्ट्रीय सुरक्षा ,समिति ,आर्थिक सलाह समिति व्यापर एवं उद्योग समिति का गठन किया |
  • उड़ीसा में अत्यधिक गरीबी क्षेत्र के लिए साथ सूत्रीय गरीबी उन्मूलन कार्यक्रम चलाया |
  • विदेशो में रह रहे भारतीय  मूल के लोगो के लिए ,ग्रामीण रोजगार सर्जन के लिए बीमा  योजना की शुरुआत  की शुरुआत की |
  • रोजा इफ्तार सरकारी खर्चे पर शुरू किया गया |
  • अर्बन सीलिंग एक्ट बंद किया |

अटल बिहारी वाजपेयी का जीवन –

अटल जी एक अच्छे कवी थे यह गुण उन्होंने पैतृक मिला था क्योंकि उनके  पिता जी भी एक अच्छे ,जाने- माने कवी थे | उनकी पहली कविता ताजमहल थी अटला जी ब्रजभाषा और खाड़ी बोली में कतय रचना करते थे | अटल बिहारी वाजपेयी जी ने कई कात्या लिखे जिसमे मेरी इक्यावन कविताये कात्या संग्रह  प्रसिद्धः है | राजनीतिज्ञ के साथ साथ वे एक प्रसिध्द कवि थे |

अटल जी की प्रमुख रचनाएँ –

  • मृत्यु या हत्या
  • अमर बलिदान
  • संसद में तीन दशक
  • अमर आग है
  • सेक्युलर वाद
  • कुछ लेख –कुछ भाषण
  • राजनीती की रपटीली रान्हे
  • बिंदु- बिंदु विचार
  • मेरी इक्यावन कवितांए

पुरुस्कार –

अटल जी को कई पुरस्कारों से नवाज़ा गया | उन्हें पदम् विभुसन ,लोकमान्य तिलक पुरस्कार , श्रेष्ठ संसद पुरस्कार,भारत रत्न से सम्मानित ,दी लिट् (कानपूर विश्व विद्यालया) , फ्रेंड्स ऑफ़ बांग्लादेश लिबरेशन वार अवार्ड से सम्मानित किया गया |

अटल जी चाहे प्रधानमंत्री के पद पर हो या वे एक कवि के रूप है वे हर बात को बहुत खुले शब्दों में कहने का साहस रखते है उन्होंने भारत देश को ऊचाईयों तक पहुचाया | उनके भाषण को सुनकर लोगो के अन्दर जोश अ जाता था | वे कहते है की मेरी कविता जंग का एलान है , पराजय की प्रस्तावना नहीं | वह हारे हुए सिपाही का नैराश्य –निनाद नहीं जूझते योधा का जय संकल्प है| वह निराश का स्वर नही ,आत्म विश्वास का जय घोष है|

Atal Bihari Vajpayee Death :

अभी हाल ही मे 15 अगस्त के ठीक 1 दिन बाद 16 August 2018 को अटल विहारी वाजपई जी की 93 उम्र की अवस्था में मृत्यु हो गयी |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.